नेहरू जी के जनदिन पर बाल दिवस मनाने की पीछे छिपा है ये राज... 

बाल दिवस पंडित जवाहरलाल नेहरू के जन्मदिन के उपलक्ष 14 नवंबर को मनाया जाता है

पंडित जवाहरलाल नेहरू का मानना था कि बच्चे देश का भविष्य होते हैं

पंडित जवाहरलाल नेहरू को बच्चों से बहुत ज्यादा प्यार था,बच्चे उन्हें प्यार से चाचा बुलाते थे 

1964 के पहले बाल दिवस 20 नवंबर को मनाया जाता था

पंडित जवाहरलाल नेहरु की मृत्यु हो जाने के बाद उनके जन्मदिन को बाल दिवस के रूप में मनाने की घोषणा हुई 

 उनके जन्मदिन को बाल दिवस के रूप में मनाने पीछे की वजह थी कि पंडित जी को बच्चों से खास लगाव था

1 जून 1950 से बाल दिवस मनाने की परंपरा शुरू हुई