-0.6 C
New York
Tuesday, February 7, 2023

जवाहरलाल नेहरू पर निबंध।Jawaharlal nehru essay (500 word) in hindi

 

jawahr lal nehru essay

जवाहरलाल नेहरू पर निबंध हिन्दी।Jawahar lal nehru essay in hindi. 

परिचय: पंडित जवाहरलाल नेहरू भारत के एक महान व्यक्ति, राजनीतिज्ञ, लेखक और एक अच्छे वक्ता भी थे। पंडित जी को बालक से बहुत लगाव था। यही कारण था कि बच्चे उन्हें चाचा कह के बुलाते थे।  जवाहरलाल नेहरू का जन्म 24 नंबर 1889 को इलाहाबाद, उत्तर प्रदेश में हुआ था। उनके पिता मोतीलाल नेहरू जो पेशे से एक वरिष्ठ वकील और दो बार कांग्रेस अध्यक्ष पर भी कार्यरत थे। माताजी स्वरूपरानी जो एक ब्राह्मण परिवार से ताल्लुक रखती थीं।

शिक्षा: नेहरू ने अपनी स्कूली शिक्षा घर से ही की। आगे कॉलेज की शिक्षा ट्रिनिटी कॉलेज लंदन से हुई। इसके बाद वे कानून की डिग्री हासिल करने के लिए कैम्ब्रिज विश्वविद्यालय गए। अपनी कानून की पढ़ाई पूरी करने के बाद, नेहरू 1912 में इंग्लैंड से भारत लौट आए। उन्होंने भारत में कानून का अभ्यास करना शुरू किया कुछ समय बाद 26 साल की उम्र में उन्होंने कमला नेहरू से शादी कर ली।  जिससे इंदिरा गांधी के रूप में एक बेटी का जन्म हुआ। देश पर अंग्रेजों की बर्बरता को देखकर उनसे सहा नहीं गया और वह वकालत को छोड़कर स्वतंत्रता संग्राम में कूद पड़े।

वे गांधी जी के साथ स्वतंत्रता आंदोलन से जुड़े बापू जी के साथ असहयोग आंदोलन जैसे बड़े आंदोलन का हिस्सा बने। अंग्रेजों से लड़ते हुए वे कई बार जेल भी गए लेकिन वह इससे न तो निराश हुए और न ही पीछे हटे। उन्होंने गोरों को भारत से बाहर भगाने के सफर को और भी तेजी जारी रखा। उन्होंने भारत को एक मजबूत राष्ट्र बनाने के लिए हमेशा कड़ी मेहनत की। उनकी कड़ी मेहनत ने उन्हें स्वतंत्र भारत के पहले प्रधानमंत्री के रूप में चुना। उन्होंने ही आराम हराम का नारा दिया था।

इन्हें भी पढ़ें 

          दीवाली में करे 5 बिजनेस पहले दिन से ही कस्टमर की लाईन                       

       ॰  दुर्गा पूजा का इतिहास,महत्व,कहानी निबंध।

नेहरू के राजनीतिक सफर की उपलब्धियां : इंग्लैंड से कानून की पढ़ाई पूरी करने के बाद, नेहरू भारत लौट आए और इलाहाबाद उच्च न्यायालय में वकील के रूप में काम करना शुरू कर दिया। 1917 में होम रूल लीग में शामिल हुए और फिर 1919 में गांधीजी के साथ मिलकर रॉलेट एक्ट के खिलाफ मोर्चा संभाला। इस यात्रा को आगे भी जारी रखते हुए वह गांधीजी द्वारा शुरू किए गए असहयोग आंदोलन में भी शामिल रहे। 1926-28 तक नेहरू अखिल भारतीय कांग्रेस के महासचिव बने।  फिर उन्होंने सविनय अवज्ञा आंदोलन को सफल बनाने के लिए 1930 में गांधीजी के साथ आगे काम किया।

1942 में भारत छोड़ो आंदोलन के दौरान उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया था। 15 अगस्त 1947 को भारत के स्वतंत्र होने के साथ, जवाहरलाल नेहरू को भारत के पहले प्रधानमंत्री के रूप में चुना गया था। नेहरू योजना आयोग के पहले अध्यक्ष भी बने और लगभग 2 वर्षों के बाद भारत के लोगों के जीवन की गुणवत्ता में सुधार के लिए राष्ट्रीय विकास परिषद का भी गठन किया।  उनके कार्यकाल के दौरान 1951 में पहली पंचवर्षीय योजना भी शुरू की गई थी। उन्होंने कमजोर लोगों के अधिकारों और महिलाओं और बच्चों के कल्याण को प्राथमिकता दी, यही कारण है कि उन्होंने पंचायत राज व्यवस्था भी शुरू की।  देश की सेवा के दौरान 27 मई 1964 को दिल का दौरा पड़ने से जवाहरलाल नेहरू का निधन हो गया।

इन्हें भी पढ़ें 

        ॰ कंप्यूटर और टी.वी. प्रभाव पर निबंध।और जाने टीवीऔर कंप्यूटर की वजह से किस प्रकार हमारा समाज खतरे में है।

       ॰ दिवाली पर निबंध,इतिहास जानने के लिए क्लिक करे

जवाहरलाल नेहरू के बारे में 10 लाइन निबंध।

1.जवाहर लाल नेहरू बच्चों से बहुत प्यार करते थे, यही वजह थी कि बच्चे उन्हें चाचा कहकर बुलाते थे।

2.जवाहरलाल नेहरू का जन्म 14 नवंबर 1889 को उत्तर प्रदेश के इलाहाबाद में हुआ था।

3.उच्च स्तर की शिक्षा प्राप्त करने के लिए नेहरू 15 वर्ष की आयु में इंग्लैंड चले गए।

4.नेहरू स्वतंत्र भारत के पहले प्रधानमंत्री चुने गए थे।

5.राजेंद्र प्रसाद कहते थे पंडित जी के नेतृत्व में देश प्रगति के रास्ते पर आगे बढ़ रहा है।

6.नेहरू के जन्मदिवस पर वर्तमान सरकार ने बाल स्वस्थ स्वच्छता अभियान नाम से एक कार्यक्रम की शुरुआत की।

7.पंडित जवाहरलाल नेहरू को 1947 से 1964 तक सबसे लंबे समय तक प्रधानमंत्री रहने का गौरव भी प्राप्त है।

8.नेहरु की शादी 26 वर्ष की उम्र मे कमला कौल के साथ हुई।

9.इंग्लैंड से भारत लौटने के बाद नेहरू ने कुछ समय तक वकील के रूप में भी काम किये।

10.जवाहरलाल नेहरू के जन्मदिन को पूरा भारत बाल दिवस के रूप में मनाता है।

इन्हें भी पढ़ें 

      महात्मा गांधी पर निबंध और जाने गांधी जी से जुड़े कई रहस्यमय बातें।

           सुभाष चंद्र बोस पर निबंध,अनमोल विचार जयंती हिन्दी में।

okkdheeraj
okkdheerajhttp://gyangoal.in
Blogger managing 3 websites, SEO professional, content writer , digital marketing enthusiast and also a frontend designer. Always ready to showcase and enhance my knowledge .

Latest Articles