Manoj Muntashir biography in hindi

मनोज मुंतशिर की कैरियर की शुरुआत 2005 से हुई फिल्म यू बोम्शी  एन मी से उसके बाद पटकथा लेखक के रूप में पहली बार डेब्यू की टीवी पर कौन बनेगा करोड़पति 2005 में ,फिल्म बाहुबली 2015 में , आगे और भी बड़े-बड़े शो इंडियन गोट टैलेंट ,जलक दिखलाजा और इंडियन आईडल जैसे पटकथा script लिखी।

मनोज मुंतशिर कौन है?

Manoj Muntashir biography
Manoj Muntashir awards

 

मनोज मुंतशिर एक भारतीय कवि ,लेखक ,सॉन्ग राइटर, लिरिक्स राइटर, यूट्यूबर और कमाल के वक्ता है। यह यूपी के अमेठी जिला के गौरीगंज के रहने वाले हैं । इनका जन्म 27 फरवरी 1976 को हुआ था । मनोज मुंतशिर का वास्तविक नाम मनोज शुक्ला है । गलियां, तेरे संग यारा ,तेरी मिट्टी ,फिर भी तुमको चाहूंगा, जियो रे बाहुबली जैसे गाने मनोज मुंतशिर के सबसे ज्यादा पसंद किया जाने वाले गाने हैं

व्यक्तिगत जीवन | Personal information 

 वास्तविक नाममनोज शुक्ला
व्यवसायगीतकार, कवि
 उपनाममनु 
 जन्मदिन27 फरवरी 1976
उम्र45 साल
जन्मस्थलगौरीगंज, अमेठी जिला, उत्तर प्रदेश
 गृहनगरगौरीगंज, अमेठी जिला, उत्तर प्रदेश
 धर्म हिंदू
शैक्षणिक योग्यतास्नातक 1999
 विद्यालयकन्वर्ट स्कूल इन गौरीगंज अमेठी 
विश्वविद्यालयइलाहाबाद विश्वविद्यालय 

Manoj Muntashir struggle story

 

मनोज मुंतशिर बताते हैं कि जब मैं पहली बार मुंबई आया था तो मुझे काफी दिनों तक फुटपाथ पर रहना पड़ा था क्योंकि मेरे पास इतने पैसे नहीं थे उस वक्त कि मैं किराए के कमरे में रह सकूं जब वह ग्रेजुएशन स्नातक 1999 में करने के बाद वह मुंबई आए उसके पास उस वक्त केवल उनके पास ₹700 थे, मुंबई में उनकी पहली कमाई हुई अनूप जलोटा द्वारा दी गई गीत को लिखकर तब उन्हें इस भजन को लिखने के ₹3000 मिले जो उनकी पहली कमाई थी वह कहते हैं कि यह कमाई के बाद में कुछ समय दिनों के लिए अपने आप को बहुत धनी व्यक्ति समझने लगा था।

  • 2005 में जब उन्हें सबसे बड़ा अवसर मिला अमिताभ बच्चन के साथ काम करने का उस समय का सबसे बड़ी टीवी शो ʼकौन बनेगा करोड़पति ʼके पटकथा को लिखने का मौका मिला उसके बाद आगे और भी बड़े-बड़े शो Show जैसे इंडिया गोट टैलेंट, झलक दिखलाजा और इंडियन आईडल जैसे बड़े शो Show की पटकथा( script )लिखी।

 

>>हार्दिक पटेल का जीवन परिचय,परिवार,शिक्षा,लाइफस्टाइल,करियर

 

>>हेमंत विश्व शर्मा का जीवन परिचय।Himanta biswa Sarma biography in hindi.

 

 

Manoj Muntashir wife, family

मनोज मुंतशिर के पिता का नाम शिव प्रताप शुक्ला है। वे एक किसान है और पंडित भी है। मनोज की माँ एक शिक्षिका है। मनोज मुंतशिर की पत्नी का नाम नीलम मुंतशिर है। नीलम एक लेखिका है। मनोज मुंतशिर के बेटे का नाम अरु है।

 

Manoj Muntashir son
Manoj Muntashir son

Manoj Muntashir book, poems

 

Manoj Muntashir

 

 

जूते फटे पहनके आकाश पर चढ़े थे,
सपने हमारे हरदम औकात से बड़े थे,
सिर काटने से पहले दुश्मन ने सिर झुकाया
जब देखा हम निहत्थे मैदान में खड़े थे
~मनोज मुंतशिर

 

पिछली कई सदियों से हमने
अपने इतिहास की जमीने लावारिस छोड़ रखी है,
हम इस हद तक ब्रेन ब्रेन वॉशड हो गये
कि अचानक हमारी प्री-प्राइमरी स्कूल की टेक्स्ट बुक
में ग से गणेश की जहग, ग से गधा लिख दिया गया और
हमारे माथे पर बल तक नही पड़ा.
                                                       ~मनोज मुंतशिर

 

जैसा बाजार का तकाजा है,
वैसा लिखना अभी नही सीखा
मुफ्त बंटता हूँ आज भी मैं तो
मैंने बिकना अभी नही सीखा
एक चेहरा है आज भी मेरा
वो भी कमबख्त इतना जिद्दी है
जैसी उम्मीद है जमाने को
वैसा दिखना अभी नही सीखा
                                          ~मनोज मुंतशिर

 

Manoj Muntashir Awards

 

Manoj Muntashir
Manoj Muntashir awards controversy

 

 

  1. द इंडियन आइकन फिल्म अवार्ड्स | The indian icon film award

• 2015 में फिल्म ‘एक विलेन’ के गीत ‘गलियां’ के लिए सर्वश्रेष्ठ गीत
• 2016 में फिल्म ‘रुस्तम’ के गीत ‘तेरे संग यारा’ के लिए सर्वश्रेष्ठ गीत

 

      2. हंगामा सर्फर्स च्वाइस अवार्ड्स | Hungama surfers choice awards

• फिल्म ‘एक विलेन’ (2015) के गीत ‘गलियां’ के लिए सर्वश्रेष्ठ गीत
• फिल्म ‘एक विलेन’ (2015) के ‘गलियां’ के लिए सर्वश्रेष्ठ गीत (अंकित तिवारी और मिथुन के साथ)

 

   3 . IIFA अवार्ड्स |  IIFA awards

• फिल्म ‘एक विलेन’ (2015) के गीत ‘गलियां’ के लिए सर्वश्रेष्ठ गीत
फिल्म ‘एक विलेन’ (2015) के गीत ‘गलियां’ के लिए सर्वश्रेष्ठ गीत के लिए अरब इंडो बॉलीवुड अवार्ड्स.

• फिल्म ‘बाधासाहो’ (2015) के गाने ‘तेरे रश्के क़मर’ के लिए सर्वश्रेष्ठ गीत

  4 .मिर्ची म्यूजिक अवार्ड्स | Mirchi music award

• फिल्म ‘हाफ गर्लफ्रेंड’ (2014) के गाने ‘फिर भी तुमको चाहूंगा’ के लिए सर्वश्रेष्ठ गीत के लिए श्रोताओं की पसंद का पुरस्क

• फिल्म ‘एक विलेन’ (2015) के लिए श्रोताओं की पसंद का एल्

• फिल्म ‘कबीर सिंह’ (2019) के लिए एल्बम के लिए श्रोताओं की पसंद का पुरस्कार

• फ़िल्म ‘केसरी’ (2019) के लिए क्रिटिक्स अवार्ड ऑफ़ द ईयर

 

 

  • उत्तर प्रदेश गौरव समन पुरस्कार बेस्ट गीतकार  2016 लिए
  • उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा यश भारती पुरस्कार (2016)
  • ज़ी सिने अवार्ड्स – फ़िल्म ‘केसरी’ (2020) के लिए सर्वश्रेष्ठ गीत के लिए जूरी की पसंद का पुरस्कार।

 

 

 

          

 

 

Share.

Blogger managing 3 websites, SEO professional, content writer , digital marketing enthusiast and also a frontend designer. Always ready to showcase and enhance my knowledge .

Leave A Reply