dr vikash divyakriti sir - drishti ias

 

 Who is Dr Vikash Divyakriti?

डॉ विकास दिव्यकीर्ति एक भारतीय पूर्व आईएएस अफसर, आईएस ट्रेनर, लेखक ,दृष्टि आईएएस एकेडमी के मैनेजिंग डायरेक्टर और फाउंडर, मोटिवेशनल स्पीकर और एक शानदार शिक्षक है। विकास दिव्यकीर्ति का जन्म 1976 में हरियाणा में हुआ था । छात्र उनके योगदान के लिए उन्हें शिक्षा जगत के अब्दुल कलाम के नाम से भी जानते हैं ।

Vikash Divyakriti wife, family details

विकास दिव्यकीर्ति के परिवार में उनके माता-पिता उनकी पत्नी और एक बेटा है । विकास दिव्यकीर्ति ने 1998 में अपनी गर्लफ्रेंड तरुणा वर्मा के साथ शादी की । विकास दिव्यकीर्ति के बेटे का नाम सात्विक दिव्यकीर्ति  है ।
विकास दिव्यकीर्ति के माता-पिता दिल्ली यूनिवर्सिटी में प्रोफेसर रहे हैं । विकास दिव्यकीर्ति की पत्नी डॉ तरुणा वर्मा दृष्टि आईएएस की डायरेक्टर है ।

Early life of Dr Vikash Divyakriti

विकास दिव्यकीर्ति का जन्म 1976 में हरियाणा में हुआ था उनके माता-पिता दिल्ली यूनिवर्सिटी में प्रोफेसर रहे हैं । विकास दिव्यकीर्ति ने अपनी बचपन की पढ़ाई सरस्वती शिशु मंदिर से पूरा करी वह बचपन से ही बड़े मेधावी छात्र रहे हैं । विकास दिव्यकीर्ति अपने आगे की पढ़ाई करने के लिए दिल्ली यूनिवर्सिटी में एडमिशन ले लिया और फिर उन्होंने वहासे अपनी आगे की पढ़ाई की ।

Education of Dr Vikash Divyakriti

बचपन की पढ़ाई सरस्वती शिशु मंदिर हरियाणा से पूरे करने के बाद विकास दिव्यकीर्ति ने दिल्ली यूनिवर्सिटी से इतिहास विषय के साथ स्नातक किया फिर उन्होंने अपना मास्टर का कोर्स किए  फिर एमफिल फिर पीएचडी हिंदी विषय से ।
इसके बाद विकास दिव्यकीर्ति नहीं अपना मासिक का कोर्स मास कम्युनिकेशन और सोशलॉजी से संपूर्ण किया और फिर उन्होंने एलएलबी की डिग्री ली ।इतने पढ़ाई करने के बाद भी विकास दिव्यकीर्ति नहीं रुके और उन्होंने अपने मनचाहे विषय हिंदी को पढ़ने के लिए भारतीय विद्या मंदिर से पीजी की डिग्री हासिल की । उन्होंने दिल्ली विश्वविद्यालय तथा भारतीय विद्या भवन दोनों संस्थानों से अंग्रेजी हिंदी अनुवाद में पीजी डिप्लोमा किया है । विकास दिव्यकीर्ति सर पहली बार में आईएएस की परीक्षा पास कर लोगों को चौंका दिया ।

 

DRISHTI IAS | Career of Dr Vikash Divyakriti

 

 

 

डॉ विकास दिव्यकीर्ति ने अपने करियर की शुरुआत दिल्ली यूनिवर्सिटी में प्रोफेसर के रूप में की लेकिन फिर उन्होंने कुछ बड़ा करना था ,और उसके बाद विकास सर यूपीएससी की तैयारी में भिड़ गए । डॉ विकास दिव्यकीर्ति ने यूपीएससी की परीक्षा पहली बार में ही सफलतापूर्वक उत्तर्ण किया और फिर इस परीक्षा को निकालने के बाद इन्हें अपने आप पर बेहद गर्व हुआ । इसके बाद भी का स्थिति कृति सामने एक आईएएस अफसर के रूप में भारत सरकार के गृह मंत्रालय विभाग में अपना कार्य शुरू किए ।मगर किस्मत को तो कुछ और ही मंजूर था , विकास दिव्यकीर्ति सर को पढ़ाने में बेहद दिलचस्पी था और यही कारण था कि आई एस की परीक्षा पहली बार मैं निकालने के बाद गृह मंत्रालय में एक अच्छी खासी नौकरी को मात्र 1 साल के बाद रिजाइन कर दिए । फिर शुरू हुआ भारत में एक नए संस्थान दृष्टि आईएएस अकैडमी का शुरुआत ।
दृष्टि आईएएस एकेडमी भारत के कई बड़े शहरों में कोचिंग संस्थान के रूप में छात्रों को आईएस के टॉप फैकल्टी गाइड करते हैं और ऑनलाइन माध्यम से यूट्यूब और दृष्टि आईएएस के अपने एप पर लाखों छात्र आईएएस और अन्य परीक्षाओं की तैयारी करते हैं ।इस समय 2021 में दृष्टि आईएएस के यूट्यूब चैनल पर साइट लाख से ज्यादा सब्सक्राइबर है जिस पर लगभग 4000 वीडियो है जिनकी मदद से छात्र आईएस जैसे महत्वपूर्ण परीक्षा की तैयारी करते हैं । कल विकास दिव्यकीर्ति सर दृष्टि आईएएस के मैनेजमेंट के अलावा दृष्टि करेंट अफेयर्स टुडे मासिक पत्रिका में सामाजिक मुद्दों पर लिख भी लिखते हैं दृष्टि मीडिया की देखरेख करते हैं । विकास दिव्यकीर्ति सर ने कई महत्वपूर्ण किताबें भी लिखी है ।
                                       

Vision of Dr Vikash Divyakriti Sir

विकास दिव्यकीर्ति सर कई सारे भावी योजनाओं पर कार्यरत हैं । इनमें से कुछ है दृष्टि को एक मीडिया प्लेटफार्म बनाना जो पूर्ण रूप से स्वतंत्र हो और मीडिया क्षेत्र से जुड़े कई और सामाजिक उद्यम यानी बिजनेस शामिल है ।उनके भावी योजना में कई पुस्तक और उसके साथ साथ पुस्तक संपादन का बिजनेस भी शामिल है । विकास दिव्यकीर्ति सेट नई तकनीक के माध्यम से छात्रों को अच्छी शिक्षा प्रदान करना चाहते हैं जिसकी मदद से छात्र आसानी से और जल्दी समझ सके उनका मकसद सिर्फ आईएस के लिए छात्रों को तैयार करना नहीं बल्कि समाज के हर छात्र को जीनियस बनाना है । पर यही कारण है कि उन्होंने अपने आईएस की नौकरी छोड़ कर छात्रों के भविष्य पर काम करना शुरू किया और इसीलिए छात्रों ने उन्हें  शिक्षक ही नहीं बल्कि शिक्षण संस्थान के अब्दुल कलाम के रूप में मानते  हैं ।

विकास दिव्यकीर्ति से जाने कैसे करें प्रीलिम्स आईएएस की तैयारी-

विकास दिव्यकीर्ति सर करते हैं की प्रीलिम्स को छात्रों को सिर्फ एक सामान्य परीक्षा के तौर पर देखना चाहिए जिसे बस पास करना ही छात्रों का मकसद हो क्योंकि मुख्य परीक्षा तो आईएस मेंस का है प्रीलिम्स  को पास करना बस आईएस मेंस में बैठने का टिकट है ।  प्रीलिम्स  की तैयारी में विषयों को छाट ले और स्मार्ट स्टडी करें जरूरी नहीं है कि हर सब्जेक्ट के हर टॉपिक को कंप्लीट किया जाए ।

विकास दिव्यकीर्ति सर से जाने की ऑप्शनल सब्जेक्ट कैसे चुज करें-

ऑप्शनल सब्जेक्ट यूपीएससी सिविल परीक्षा का एक बेहद महत्वपूर्ण हिस्सा है ऑप्शनल सब्जेक्ट एक  परिक्षा का एक मुख्य हिस्सा है इसलिए छात्रों को ऑप्शनल सब्जेक्ट बेहद समझ के चुनना चाहिए ।  समझना जरूरी है की ऑप्शनल सब्जेक्ट क्या होता है और यह किस तरीके से उन्हें उनके मेंस एग्जाम में मदद कर सकता है अगर आप यह समझ गए तो आपको आपके अनुसार का ऑप्शन सब्जेक्ट सुनने में कोई कठिनाई नहीं होगा ।

Conclusion

आईएस डॉ विकास दिव्यकीर्ति एक बेहतरीन शिक्षक और सभी यूपीएससी चाह रखने वाले छात्रों के लिए एक रोल मॉडल है । उन्होंने अपने संस्थान के मदद से लाखों छात्रों को आईएस बनाया है । भारत के हर छात्र जो आईएस से संबंधित परीक्षाओं की तैयारी कर रहे हैं और विकास स्वीकृति सर को जानते हैं वह विकास सर के काफी सम्मान करते हैं । विकास सर के जैसा शिक्षक हमारे देश के लिए एक तोहफा है ।

Social media of Drishti IAS 

इसी तरह के शानदार कॉन्टेंट के साथ जुड़े रहने के लिए हमारे वेबसाइट gyangoal.in के साथ जुड़े रहे और नोटिफिकेशन ऑन करें.
Share.

Blogger managing 3 websites, SEO professional, content writer , digital marketing enthusiast and also a frontend designer. Always ready to showcase and enhance my knowledge .

Leave A Reply